Don't have Telegram yet? Try it now!
http://makingindia.co/moksha-spiritual-life-journey-writing-diary-ma-jivan-shaifaly/
कागज़ी दस्तावेज : पिया की प्रतीक्षा में घूंघट ओढ़े बैठी रोज़ एक नई दुल्हन हूँ मैं