Don't have Telegram yet? Try it now!
https://cjp.org.in/up-police-ka-graminon-par-atyachar-jaari/
किस्मतिया और सुखदेव हुए रिहा, लेकिन यूपी पुलिस का ग्रामीणों पर अत्याचार अब भी जारी