Don't have Telegram yet? Try it now!
https://hindi.opindia.com/opinion/social-issues/exposing-double-standard-of-media-when-man-beaten-by-mob-belongs-to-a-particular-community/
भीड़ की हर कार्रवाई को ‘भगवा आतंक’ से जोड़ती मीडिया: जब पुलिस का ही न्याय से उठ गया था भरोसा!